TRANDING NEWS OF THE WEEK

26 नवंबर 2020

किन कारणों से आपकी पिंडलियों में होता है दर्द? जानें क्या है इसके इलाज का विकल्प और क्या है बचाव

 पिंडलियां घुटनों के बिलकुल नीचे की ओर पीछे की तरफ होती है, जो तीन मांसपेशियों (गैस्ट्रोकनेमियस, सोस और प्लांटरिस) से बनी होती है। पिंडलियों में दर्द की समस्या काफी आम है, जरूरी नहीं कि ये सिर्फ खिलाड़ियों या फिर ज्यादा उम्र वाले लोगों को ही हो बल्कि ये कई कम उम्र वाले और जो किसी खेल में हिस्सा नहीं लेते उन लोगों में भी ये समस्या देखने को मिलती है। पिंडलियां या बछड़ें इनका दर्द काफी खतरनाक होता है जिस कारण पूरे पैर में सूजन महसूस होती है।



 इस स्थिति में ये रक्त वाहिकाओं और ऊतकों को प्रभावित करती हैं जो पिंडलियों के आसपास मौजूद होती हैं। इसलिए लिए लोग अक्सर तुरंत इलाज लेने की कोशिश करते हैं क्योंकि इसका दर्द बहुत खतरनाक होता है। इसके कारण आपको चलने-फिरने और उठने-बैठने में भी काफी परेशानी हो सकती है। इसलिए आपको इसका इलाज जल्द से जल्द कराने की जरूरत होती है। लेकिन इसे पहले आपको ये जानना जरूरी होता है कि किन कारणों से आपकी पिंडलियों में दर्द या सूजन पैदा होती है। इस विषय पर हमने डॉक्टर ईश आनंद से बात की जो सर गंगा राम अस्पताल में न्यूरोलॉजी विभाग के उपाध्यक्ष हैं। तो आइए इस लेख के जरिए जानते हैं कि डॉक्टर ईश आनंद का इस पर क्या जवाब है। 

अंदाज करना काफी खतरनाक हो सकता है। 

मांसपेशियों में तनाव

शरीर के किसी भी हिस्से की मांसपेशियों में जब तनाव होता है तो इस दौरान आपको दर्द और सूजन जैसी समस्याओं से गुजरना पड़ सकता है। ऐसे ही पिंडलियों के साथ होता है जब आपका पिंडलियों या बछड़ों में दर्द को महसूस करते हैं तो वो मांसपेशियों के तनाव के कारण हो सकता है। आमतौर पर ये ज्यादा खेलने, एक्सरसाइज या ज्यादा चलने के कारण भी हो सकता है। अगर ये कुछ दिनों में सामान्य हो जाए तो ठीक है नहीं तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

calf pain

प्लांटारिस मांसपेशी का खराब होना

पिंडलियां जिन तीन मांसपेशियों से बनी होती है उनमें से एक होती है प्लांटारिस, जब ये खराब या पूरी तरह से कमजोर होने लगती है तो इस दौरान आपको तेज दर्द का अनुभव हो सकता है। इसका अंदाजा आपको शुरुआती चरण में नहीं हो सकता, क्योंकि इसमें आपको हल्का दर्द और सूजन ही देखने को मिलती है। जब आप डॉक्टर द्वारा जांच करवाते हैं तो आपका डॉक्टर इस समस्या को बता सकता है

खून के थक्के बनना

खून के थक्के शरीर के किसी भी हिस्से में बन सकते हैं जो आपको एक गांठ के रूप में नजर आ सकते हैं। इसमें आपको दर्द और प्रभावित हिस्से में सूजन भी महसूस हो सकती है। ऐसे ही पिंडलियों की नसों में रक्त के थक्के बनने पर आपको अपने बछड़ों में तेज दर्द महसूस हो सकता है। रक्त के थक्कों की समस्या बढ़ती उम्र के लोग, गर्भावस्था के दौरान, ज्यादा वजन वाले या मोटापे का शिकार लोग, कैंसर से पीड़ित और धूम्रपान करने वालों को ज्यादा होती है। लेकिन इसमें समझने वाली बात ये है कि जब आपका डॉक्टर ये बात बताएं कि आपकी पिंडलियों में दर्द खून के थक्कों के कारण हो रहा है तो इस दौरान आपको किसी भी घरेलू उपाय का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से बात करनी की जरूरत होगी। आपका डॉक्टर इन खून के थक्कों को खत्म कने के लिए आपको दवाएं दे सकता है जिसका आपको पालन करना है। खून के थक्कों की स्थिति में आपका डॉक्टर ही आपको पूरा इलाज का तरीका बताएगा जिसकी मदद से आप स्वस्थ रह सकते हैं। 

इलाज 

ठंडा या गर्म सेंक

पिंडलियों में दर्द से राहत पाने के लिए डॉक्टर आपको ठंडा या गर्म सेंक का विकल्प दे सकता है, जिसकी मदद से आप अपनी सूजन और दर्द से राहत पा सकते हैं। लेकिन आप खुद से इस विकल्प को चुनने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

स्ट्रेचिंग

स्ट्रेचिंग यानी खिंचाव ये किसी भी मांसपेशियों को राहत पहुंचाने और उन्हें तनावमुक्त करने के लिए एक बेहतरीन विकल्प है। अगर आपके पिंडलियों या बछड़ों में दर्द हो रहा होता है तो डॉक्टर आपको कुछ स्ट्रेचिंग बता सकता है जिनकी मदद से आप दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। 

फिजिकल थैरेपी

हल्के इलाज के बाद डॉक्टर आपको फिजिकल थैरेपी के साथ राहत पहुंचाने का काम कर सकता है। आप जब बहुत ज्यादा दर्द और सूजन का शिकार होते हैं तो आपके फिजिकल थैरेपी का इस्तेमाल किया जाता है जिसके बाद आपको कुछ हद तक राहत मिल सकती है। इससे आपकी शारीरिक गतिविधियां फिर से शुरू होने में मद मिलती है। इसके लिए अलग-अलग तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है।

 

दवाएं

जब आप कई इलाज के विकल्प के बाद भी राहत नहीं ले पाते तो आपके लिए डॉक्टर कुछ दवाओं का सहारा लेते हैं। जिसके जरिए आपकी मांसपेशियों को राहत पहुंचाई जाती है।

बचाव

  • बढ़ते वजन के कारण आपके पिंडलियों या बछड़ों में दर्द हो सकता है इसके लिए जरूरी है कि आप अपने वजन को हमेशा नियंत्रण में रखें और मोटापे से बचें।
  • धूम्रपान आपके पूर्ण स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है, ये आपके मांसपेशियों को भी खराब करने का काम करता है। इसलिए आप धूम्रपान को कम से कम करने की कोशिश करें या फिर इसे पूरी तरह से त्याग दें। 
  • नियमित रूप से शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा बनाएं रखें, शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी से आप कई बीमारियों और रोगों को आसानी से दूर कर सकते हैं। 

इस लेख में पिंडलियों के दर्द को लेकर जानकारी दी गई है जिसमें ये बताया गया है कि किन कारणों से ऐसा होता है और इसके इलाज के लिए कितने विकल्प मौजूद है। इन सभी चीजों की जानकारी डॉक्टर ईश आनंद से बात की जो सर गंगा राम अस्पताल में न्यूरोलॉजी विभाग के उपाध्यक्ष हैं उनसे बातचीत पर निर्भर है। 


Popular Feed

लेबल

Popular Posts

Popular Posts