Bollywood Like provides latest Bollywood news, movie reviews, celebrities, gossips, BiggBoss News, Tv News, Actress Photo and entertainment news. Stay tuned for more updates on showbiz, 

February 19, 2021

होनहार किसान बच्चों की JEE-NEET क्रैक करने में मदद करेंगे Vivek Oberoi, लॉन्च की 16 करोड़ की स्कॉलरशिप

 Vivek oberai launched 16 caror scholarship for farmer childernबॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) फिल्मों के अलावा सामाजिक कार्यों को लेकर भी चर्चा में रहते हैं. 18 साल पहले विवेक ओबेरॉय ने कैंसर पेशेंट ऐड एसोसिएशन (CPAA) से हाथ मिलाया था. तब से लेकर अब तक वे गांवों में रह रहे किसान परिवारों के कैंसर से जूझ रहे 2.50 लाख से ज्यादा बच्चों की निस्वार्थ भाव से मदद कर चुके हैं. अभिनेता के इस काम की कफी सराहना भी होती है.

होनहार किसान बच्चों की JEE-NEET क्रैक करने में मदद करेंगे Vivek Oberoi, लॉन्च की 16 करोड़ की स्कॉलरशिप
फोटो साभार: विवेक ओबेरॉय इंस्टाग्राम

विवेक ओबेरॉय ने शुरू किया एजुकेशनल कैंपेन

इसी कड़ी में अब अभिनेता ने एजुकेशनल कैंपेन लॉन्च किया है, जिसके तहत योग्य बच्चों को 16 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद मुहैया कराई जाएगी. इसका बड़ा फायदा गांवों में रह रहे किसान परिवारों के बच्चों को होगा. यह स्कॉलरशिप ऐसे बच्चों की मदद करेगी, जो JEE और NEET क्रैक करने का सपना देख रहे हैं. मैथमेटिशियन आनंद कुमार के सुपर 30 के तर्ज पर विवेक (Vivek Oberoi) ने  i30 प्रोग्राम शुरू किया है. अब विवेक मानते हैं कि उनकी इस पहल का सबसे ज्यादा फायदा गांव में बैठे किसान के बच्चों को होने वाला है. 

विवेक ओबेरॉय ने कही ये बात

एक न्यूज पोर्टल से बातचीत के दौरान एक्टर ने कहा, 'गांव का हर बच्चा जब भी कुछ बड़ा करता है तो न केवल अपने परिवार, बल्कि पूरे गांव को आगे बढ़ाता है. हमारे आसपास कई सराहनीय और प्रतिभाशाली बच्चे हैं, लेकिन वे उच्च शिक्षा और कोचिंग का खर्चा उठाने में असमर्थ होते हैं. यहां तक कि आर्थिक परेशानियों के चलते वे पसंद के कॉलेज में भी नहीं जा पाते. मैं नहीं चाहता कि इतने प्रतिभाशाली छात्र सिर्फ उनकी जगह (जहां से वे आते हैं) की वजह से नजरअंदाज हों. मेरी टीम और मैंने उनके सपनों को हासिल करने में मदद करने के लिए यह पहल की है, ताकि वे बाहर जाकर अपना करियर बना सकें.' 

क्या है i30 प्रोग्राम?

i30 प्रोग्राम ग्रामीण भारत के बच्चों को पढ़ाने के लिए हाई क्वालिटी और प्रोग्रेसिव मॉड्यूल्स का इस्तेमाल करता है. इसके तहत छोटे-छोटे शहरों में 90 वर्चुअल लर्निंग सेंटर खोले गए हैं, ताकि आईआईटी और मेडिकल फील्ड से जुड़े स्टूडेंट्स क्लासरूम तक पहुंच सकें और अफोर्डेबल कॉस्ट में JEE और NEET की पढ़ाई कर सकें.

Recent Story